Soya Milk Powder

  • Sale
  • Rs. 520.00
  • Regular price Rs. 750.00


Soya Milk Powder (सोया मिल्क पाउडर)

  1. सोया मिल्क पाउडर सोयाबीन से बनाया जाता है। यह दूध की तरह प्रयोग करा जाता है। यह प्रोटीन का (प्रमुख रूप से लैक्टोज) अच्छा स्रोत है। सोया मिल्क ऊर्जा (energy), प्रोटीन (protein), चीनी (sugar), आहार फाइबर (dietary fibre) और वसा (fat) का अच्छा स्रोत है। इसके अलावा इसमें खनिज (minerals), कैल्शियम (calcium), लौह (iron), मैग्नीशियम (magnesium), फॉस्फोरस (phosphorus), पोटेशियम (potassium), सोडियम (sodium) और जस्ता (zinc) जैसे पद्दार्थ पाये जाते है। इसमें विटामिन (vitamins) जैसे फोलेट (folate), थियामिन (thiamin), रिबोफ्लाविन (riboflavin), नियासिन (niacin), विटामिन बी 6 (vitamin B6), विटामिन बी 12 (vitamin B12), विटामिन (vitamin O), विटामिन (vitamin E) और विटामिन के (vitamin K) पाया जाता है। इसमें संतृप्त (saturated), मोनो-संतृप्त (mono-saturated), पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड (polyunsaturated fatty acids) भी पाए जाते है। ये सभी पोषक तत्व अच्छी सेहत के लिए आवश्यक होते है।
  2. सोया मिल्क में पाया जाने वाला प्रोटीन विशेष रूप से बालों को स्वस्थ रखने में मददगार होते है। अगर आप बालों लो स्वस्थ और मज़बूत बनाना चाहते है तो सोया मिल्क का प्रयोग कंडिशनर की तरह करे क्योकि इसमें मोजूद प्रोटीन टूटे बेजान बालों की मरम्मत करते है और उसे ख़ूबसूरत बनाते है।
  3. दिन में 1 को सोया मिल्क बच्चों के शरीर के लिए अच्छा होता है। इससे उनके शरीर की प्रोटीन की कमी पूरी हो जाती है। ये छोटे बच्चों के मस्तिष्क के विकास के लिए भी महत्वपूर्ण होता है।
  4. सोया मिल्क प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत है इसलोए यह मधुमेह के सोगियो के लिए अच्छा होता है। इसमें वसा कम मात्रा में पायी जाती है जो कि मधुमेह के रोगियों को एथेरोस्क्लेरोसिस (atherosclerosis) से बचने में मद्द करते है।
  5. सोया मिल्क त्वचा की उम्र को बढ़ने को धीमा कर देती है। सोयाबीन में मोजूद ओलिक एचिड (oelic acid) त्वचा की कोशिकाओं में मेलेनिं (melenin) के संश्लेषण से बचाता है।
  6. सोयमिलक चोलेस्ट्रोल लेवल को कम करने में काफ़ी ज़्यादा मद्द करता है जिससे हार्ट अताकक जैसी गम्भीर बीमारियों से बचाने में हमारी बहुत मद्द करता है।
  7. पुरशो में सेक्स होर्मोन की कमी होने पर उन्हें भी सोया मिल्क पीना चाहिए। इसके इस्तेमाल से शरीर में एस्ट्रजेन का लेवल भी बढ़ता है।
  8. सोया मिल्क में पाए जाने वाले प्रोटीन की वजह से ही माँसपेशियाँ स्किन के टिशू मज़बूत होते है जिससे बाल टूटना कम होते है और गंजेपन से बचाव होता है।
  9. सोया मिल्क में सोलेइक होता है जो कि त्वचा के रंग को गोरा करने या निखारने में मद्द करता है।
  10. सोया मिल्क में गाय के दूध की अपेक्षा सैचरेटेड फ़ैटी ऐसिड की मात्रा बहुत कम होती है और ये वज़न कम करने में मद्द करता है।
  11. सोया मिल्क में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कादी अधिक होती है इससे आपका स्टैमिना बढ़ता है एवं थोड़े से काम के बाद हाई थकावट महसूस नहि होती।
  12. सोया मिल्क में पाया जाने वाला विटामिन बी 6 (vitamin B6) और बी कॉम्प्लेक्स (B Complex) और व्यक्ति के मूड (mood) को अच्छा रखता है।
  13. काम (Work Out) के पश्चात आदि कमज़ोरी को सोयमिलक पूरा करता है।
  14. रायबोफ़्लेविन (Riboflavin) एनर्जी को पुनर्प्राप्त (recover) करने में मद्द करता है।
  15. सोया मिल्क का उपयोग अधिक मात्रा में नहि करना चाहिए इससे एलजाइमर होने का ख़तरा होता है थाइराईद ठीक से काम नहि करता है।

Credits: www.melbourneherbs.com

 

Image result for buy on amazon logo 2Kg