Tabasheer

  • Sale
  • Rs. 240.00
  • Regular price Rs. 350.00


Tabasheer (तबाशीर)

तबाशीर का प्रयोग अनेक बीमारियों में करा जाता है। यह हृदय और अमाशय को बलवान बनाता है। प्यास को रोकता है। यह उन्माद (पागलपन) और गरमी के बुखार में लाभ देता है। यह छोटे बच्चों की खाँसी जो कफ को थूक नहि सकते है, उनके लिए यह चूरन बहुत हाई लाभकारी होता है।

उपयोग-

  1. 10g तबशीर, 10g पिसी हुई मिश्री का चूरन बनाकर खाँसी के लिए बहुत ही लाभदायक होता है।
  2. 20g तबाशीर, 20g पीपल को पीसकर 2g की मात्रा में शहद मिलाकर सुभे-शाम लेने से दमा में आराम मिलता है।
  3. दाँत निकालते समय बच्चे को तबाशीर पाउडर शहद में मिलाकर चटाने से दाँत सुंदर निकलते है। दाँतो का दर्द भी ठीक होता है।
  4. 1-2.5g तबाशीर के चूरन को शहद के साथ मिलाकर खाने से सूखी खाँसी ठीक हो जाती है।
  5. 0.5g तबाशीर पानी या दूध के साथ सुबह-शाम लेने से गर्भपात नही होता।
  6. शहद के साथ तबाशीर लेने मुँह के छालो में आराम मिलता है।
  7. तबाशीर हल्दी एक साथ मिलाकर मुँह के छाले पर लगाने से छाले ठीक हो जाते है।
  8. 1.5g तबाशीर को शहद के सात मिलाकर लेने से यकृत (liver) वृद्धि में बहुत आराम मिलता है।
  9. 120mg तबाशीर, पपीता, चिरायता का चूरन शहद के साथ लेने से यकृत (liver) वृद्धि में बहुत फ़ायदा होता है।
  10. 30g तबाशीर और 3g छोटी इलायची को पीसकर 1g सुबह-शाम घी और चीनी में मिलाकर लेने से वीर्य (sperm) के रोग दूर होता है।
  11. 1g तबाशीर को शहद के साथ सुबह-शाम चाटने से हाथ पेरो की जलन शांत होती जाती है।